भारत मे दलित होना क्यूँ पाप है ? इस पोस्ट को एक बार पढ़ये ज़रूर

हम भारत मे रहते हैं जहां हमे हर बात की आज़ादी है ऐसा कहा जाता है लेकिन ये बात कितनी सच है इसके ऊपर बार बार सवाल उठाया जा सकता है, अभी हाल ही मे उत्तर प्रदेश के कासगंज ज़िले मे जो घटना हुई वो चिल्ला चिल्ला कर बता रही है है कि हम आज़ाद ग़ुलाम हैं.हमने अपने देश को अंग्रेजों से आज़ाद करा लिया लेकिन देश के अंदर रह रहे इन कट्टर जातिवादी घिनौनी धारणाओ से आज़ाद नहीं करा पाये और यही कारण है कि एक दलित घोड़ी पर चढ़ कर अपनी बारात नहीं ले सकता.इस फोटो को ज़रा धियान से देखये, आपको इसमे किया दिखता है?

होती हैं ये दो राशि की लड़कियां लाखों मे एक करलो फौरन विवाह अगर मिल जाए तो

आपको ऐसा नहीं लगता कि ये एक सबसे बड़ा धोका है जो हम अपने देश वासी के साथ होता देख रहे हैं और कुछ भी नहीं कर पा रहे, ये राजाओं का टाइम खतम होने के बाद भी राजाओं जैसा जीवन जी रहे हैं और हम अपने दलित भाई की बारात भी नहीं निकाल सकते.दोस्तों, अगर आप एक सच्चे भर्तीय हैं तो इस पोस्ट को इतना शेयर कीजये कि हर इंडियन इसको पढे और समझे कि आखिर हमारे देश मे हो किया रहा है।

कैटरीना कर सकती हैं शादी इस साल – दुल्हे का नाम सुनकर दंग रह जाएंगे आप

Add Comment